गन्ने को मोटा और लंबा करने के लिए कौन सी खाद और कितनी मात्रा में डालें

IMAGE CREDIT GOOGLE

पटेरा एक प्रकार का जैविक उर्वरक है जो गन्ने की पत्तियों और अन्य पौधों की सामग्री से बनाया जाता है।

IMAGE CREDIT GOOGLE

पटेरा पोषक तत्व प्रदान करके और मिट्टी के स्वास्थ्य में सुधार करके गन्ने के डंठल की लंबाई और मोटाई बढ़ाने में मदद करता है।

IMAGE CREDIT GOOGLE

पटेरा गन्ने की फसल की प्रतिरोधक क्षमता और प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर किसी भी बीमारी या कीट के संक्रमण को रोकता है।

IMAGE CREDIT GOOGLE

गन्ने की फसल में रोपण के 45 दिनों के बाद पटेरा लगाया जा सकता है

IMAGE CREDIT GOOGLE

और सर्वोत्तम परिणामों के लिए हर 15 दिनों में दोहराया जा सकता है।

IMAGE CREDIT GOOGLE

पटेरा गन्ने की उपज और गुणवत्ता में 10-15 प्रतिशत तक सुधार कर सकता है।

IMAGE CREDIT GOOGLE