धान में पत्ता लपेट सुंडी का प्रकोप बढ़ने लगा है।

Written By

Dara Singh

पत्ता लपेट सुंडी की पहचान आसान है - पत्ते लिपटे हुए और सफेद धारियों वाले होते हैं।

यह सुंडी पत्तों का रस चूसकर फसल को नुकसान पहुंचाती है।

पकाने के समय तक भी इसका प्रकोप देखने को मिल रहा है।

स्प्रे करने पर भी यह नष्ट नहीं हो रही क्योंकि इसका जन्म तितलियों के अंडों से होता है।

लैम्ब्डा-साइहेलोथ्रिन, इमामेक्टिन बेंजोएट, बिफेन्थ्रिन, कारटैप हाइड्रोक्लोराइड जैसे कीटनाशकों का प्रयोग करें।

निर्धारित मात्रा में प्रति एकड़ इन कीटनाशकों का छिड़काव करें।

फसल में पत्ता लपेट सुंडी के लक्षण दिखने पर तुरंत कीटनाशकों का उपयोग करें।

कीटनाशकों का सही मात्रा में और समय पर उपयोग करके पत्ता लपेट सुंडी को रोका जा सकता है।

पत्ता लपेट सुंडी से बचाव के लिए कृषि विशेषज्ञों की सलाह लें।